Mariliv DS Syrup: फायदे और उपयोग, खुराक, साइड इफेक्ट्स

Mariliv DS Syrup के बारे में जानकारी

Mariliv DS Syrup को Emcee Pharmaceuticals Pvt Ltd द्वारा निर्मित किया गया है। मैरिलिव डीएस सिरप दो दवाओं (Silymarin + Tricholine Citrate) का कॉम्बिनेशन है। इसका इस्तेमाल फैटी लीवर की बीमारी के इलाज के लिए किया जाता है। यह डॉक्टर द्वारा प्रिस्क्रिप्शन दवा है यह लीवर फंक्शन में सुधार करती है।

मैरिलिव डीएस सिरप की सामग्री | Mariliv DS Syrup Composition in Hindi

Silymarin (70mg/5ml)

Tricholine Citrate (210mg/5ml)

मैरिलिव डीएस सिरप के फायदे और उपयोग | Mariliv DS Syrup benefits and uses in Hindi

इन बीमारियों की रोकथाम और इलाज में Mariliv DS Syrup का इस्तेमाल किया जाता है –

फैटी लीवर रोग

कोलेस्टेसिस (Cholestasis)

नॉन एल्कोहॉलिक फैटी लिवर

एल्कोहॉलिक फैटी लिवर

मैरिलिव डीएस सिरप की खुराक | Mariliv DS Syrup dosage in Hindi

खुराक आपकी उम्र, चिकित्सा इतिहास और वर्तमान स्थिति के आधार पर डॉक्टर द्वारा निर्धारित की जाती है।

खुराक for adults- 10ml दिन में 2 -3 बार या डॉक्टर की सलाह के आधार पर इसका सेवन करें। Mariliv DS Syrup को भोजन के बाद या पहले लिया जा सकता है।

मैरिलिव डीएस सिरप के साइड इफेक्ट्स | Mariliv DS Syrup side effects in Hindi

इसके सेवन के बाद यदि आपके लक्षण में सुधार नहीं होता है। या आपकी स्थिति बिगड़ती है, तो तुरंत अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

सामान्य दुष्प्रभाव निम्न हैं-

मुँह का सुखना

कब्ज

सुस्ती

उपर्युक्त साइड इफेक्ट्स के अलावा, कुछ और भी दुष्प्रभाव हो सकते हैं। यदि आप दवा के उपयोग के दौरान कोई असामान्य लक्षण देखते हैं, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

सावधानियां-

धूम्रपान और शराब न करें, क्योंकि यह लीवर को खराब कर देता है।

वसायुक्त भोजन न करें, स्वस्थ आहार के साथ नियमित व्यायाम करें।

डॉक्टर द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार ही इसकी खुराक का उपयोग करें।

सलाह डी गयी खुराक से अधिक न करें।

उपयोग करने से पहले लेबल को ध्यान से पढ़ें

धूप से दूर, ठंडी और सूखी जगह पर रखें।

दवा को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखें।

Disclaimer: 9Desigyan.xyz साइट पर उपलब्ध सभी जानकारी और लेख केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए हैं। यहां दी गई जानकारी हमारे ज्ञान और अनुभव में सबसे अच्छी है .यहां दी गई जानकारी का उपयोग बिना किसी विशेषज्ञ की सलाह के ना करें । डॉक्टर परीक्षण और उपचार के लिए हमेशा एक योग्य डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.