Gynedol Syrup: फायदे और उपयोग, साइड इफेक्ट्स

Gynedol Syrup के बारे में जानकारी

Gynedol syrup को DWD PHARMACEUTICALS LTD द्वारा बनाया गया है। Gynedol syrup एक आयुर्वेदिक दवा है, इसका उपयोग स्त्री रोग संबंधी समस्याओं जैसे – गर्भावस्था और स्तनपान, रिकेट्स (सूखा रोग ), रजोनिवृत्ति के बाद, पुरानी गुर्दे की विफलता के उपचार में किया जाता है। और हृदय स्वास्थ्य, विटामिन डी की कमी, हाइपोकैल्सीमिया, ऑस्टियोपोरोसिस, मूत्रवर्धक और अन्य स्थितियों के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

इसका उपयोग हृदय को कई बीमारियों से बचाने के लिए और हृदय स्वास्थ्य के लिए किया जाता है, और यह पोषक तत्वों को शरीर को विटामिन डी की कमी से बचाने में मदद करता है। यह पैराथायरॉइड हार्मोन के अपर्याप्त स्तर के कारण होने वाले हाइपोकैल्केमिया के इलाज में भी मदद करता है।

Gynedol syrup की सामग्री | Gynedol syrup Ingredients in Hindi

CALCIUM LACTATE 167MG

POTASSIUM BROMIDE 250MG

PROCESS ALETRIDIS (5:1) 2MG

PROCESS ASHOKA (5:1) 12MG

PROCESS BELLADONNA (2%) 3.33MG

PROCESS HYDRASTIS (8:1) 2.8MG

PROCESS LODHRA (5:1) 7.50MG

PROCESS VALERIAN (4:1) 10.67MG

PROCESS VIBURNUM (5:1) 3.17MG

Gynedol syrup के फायदे और उपयोग | Gynedol syrup benefits and uses in Hindi

इसका उपयोग स्त्री रोग संबंधी समस्याओं के उपचार में किया जाता है।

यह हृदय स्वास्थ्य के लिए

शरीर को विटामिन D की कमी को पूरा करता है।

पैराथायराइड हार्मोन के अपर्याप्त स्तर के कारण होने वाले कैल्शियम की कमी के इलाज के लिए किया जाता है

शरीर में कैल्शियम की कमी के कारण होने वाले ऑस्टियोपोरोसिस (Osteoporosis) के इलाज के लिए किया जाता है

हाइपोफॉस्फेटिमिया (रक्त में फॉस्फेट का कम स्तर हो जाता है। फॉस्फेट एक इलेक्ट्रोलाइट है जो आपके शरीर को ऊर्जा उत्पादन और तंत्रिका कार्य में मदद करता है)

Gynedol syrup की खुराक | Gynedol syrup dosage in Hindi

आमतौर पर , 5-10 ml दिन में दो बार या डॉक्टर की सलाह पर लें।

Gynedol syrup के साइड इफेक्ट्स | Gynedol syrup side effects in Hindi

अगर डॉक्टर के निर्देशित द्वारा लिया जाए तो आमतौर पर कोई दुष्प्रभाव नहीं बताया जाता है। अपने डॉक्टर से परामर्श करें यदि निम्नलिखित दुष्प्रभाव दिखे –

  • गुर्दे की पथरी
  • जी मिचलाना
  • कब्ज
  • धीमी हृदय गति
  • गैस या पेट फूला हुआ
  • पेट दर्द
  • भूख में कमी
  • अत्यधिक प्यास
  • मांसपेशियों में कमजोरी
  • रक्त या मूत्र में अतिरिक्त कैल्शियम

सावधानियाँ

उपयोग करने से पहले लेबल को ध्यान से पढ़ें

सीधे धूप में न रखें। ठंडी और सूखी जगह पर स्टोर करें।

बच्चों से दूर रखें।

डॉक्टर द्वारा बताई गई खुराक से अधिक न लें।

डॉक्टर की देखरेख में ही लें।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *