पिलोन टैबलेट के फायदे और उपयोग, साइड इफ़ेक्ट | Pilon Tablet side effects and side effects in Hindi

Pilon Tablet के बारे में जानकारी

Pilon Tablet को Icpa Health Products Ltd द्वारा बनाया गया है। यह एक आयुर्वेदिक दवा है। यह बवासीर, बवासीर से जुड़े समस्याओं के इलाज के लिए पुरुषों और महिलाओं द्वारा इस्तेमाल किया जा सकता है।

पिलोन टैबलेट मेटाबॉलिज्म और पाचन तंत्र को बेहतर बनाकर काम करता है और बैक्टीरिया के विकास को रोकने में मदद करता है और सूजन को कम करता है। यह प्रतिरक्षा प्रणाली को भी उत्तेजित करता है।

पिलोन टैबलेट के फायदे और उपयोग | Pilon Tablet Benefits and Uses in hindi

Pilon Tablet आंतरिक और बाहरी बवासीर दोनों प्रकार के बवासीर के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है। और यह बवासीर के कारण होने वाले लक्षणो जैसे- दर्द, खुजली में भी लाभकारी है। खूनी बवासीर में खून की समस्या और दर्द में राहत देता है। और बवासीर के मस्से को सुखाता है।

खूनी बवासीर (read-खुनी बवासीर के लिए घरेलू नुस्खे )

वादी बवासीर

बवासीर से खून बहना

खुजली

पाचन में सुधार लाने और खुजली और पेट फूलना से राहत प्रदान करने के लिए Ativish शामिल हैं।

सूजन कम कर देता है और कब्ज को रोकता है।

पिलोन टैबलेट की सामग्री | Pilon Tablet Ingredients in hindi

प्रत्येक गोली में शामिल हैं:

  • एटिविश (Atavish) 110 मिलीग्राम
  • कट्टा 60 मिग्रा
  • करीयल 30 मिग्रा
  • अरीठा 20 मिग्रा
  • सुधा फताकरी 18 मिग्रा
  • इंद्रजव 16 मिग्रा
  • गोरखमुंडी 16 मिलीग्राम
  • दारुहरिद्राका अर्क 16 मिलीग्राम
  • हीराबोल 16 मिलीग्राम
  • नीम भीजे 16 मिग्रा
  • ग्रिटकुमारी 8 मिलीग्राम
  • बंसलोचन 8 मिलीग्राम
  • सौनफ 6 मिलीग्राम
  • सोनमुखी 6 मिग्रा

पिलोन टैबलेट की खुराक | Pilon Tablet Dosage in hindi

30 दिनों के लिए एक दिन में 2 गोलियां या आपके चिकित्सक द्वारा निर्देशित के रूप में।

अच्छे परिणामों के लिए, Pilon आयुर्वेदिक मरहम के साथ उपयोग करें।

पिलोन टैबलेट के साइड इफ़ेक्ट | Pilon Tablet Side Effects in hindi

पिलोन टैबलेट एक 100% आयुर्वेदिक दवा है। इसलिए Pilon Tablet का कोई नुकसान नहीं देखा गया है। यदि आपको इस टैबलेट का उपयोग करने के बाद आपको कोई दुष्प्रभाव दिखाई देते हैं। तो आप डॉक्टर से संपर्क करें।

सावधानियां | Precautions

  • गर्भावस्था के दौरान इसका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • स्तनपान करने वाली महिलाएं इसका सेवन डॉक्टर की सलहा से करें।
  • उपयोग करने से पहले लेबल को ध्यान से पढ़ें।
  • सलाह डी गयी खुराक से अधिक सेवन न करें।
  • बच्चों की पहुँच से दूर रखें।
  • ठंडी और सूखी जगह पर स्टोर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.