वीर्य को गाढ़ा करने के लिए घरेलू उपचार | Home remedies to sperm count in Hindi

पुरुष में उत्तेजना और सेक्स के दौरान मूत्रमार्ग से निकलने वाले द्रव को वीर्य कहा जाता है। वीर्य आमतौर पर गाढ़ा और सफेद होता है। कई स्थितियों में इसका रंग और गुणवत्ता बदल सकती है। पतला वीर्य कम स्पर्म काउंट (sperm count) को संकेत देता है। जो आपकी प्रजनन क्षमता को प्रभावित करता है। यदि वीर्य पतला हो गया है, तो आपको परेशान होने की जरुरत नहीं हैं। अपने लाइफस्टाइल और अपना खान-पान में सुधार करके आप अपने वीर्य उत्पादन को नियंत्रित करने वाले हार्मोन का समर्थन करने में मदद कर सकते हैं, जो शुक्राणु के स्वस्थ विकास और शुक्राणुओं की संख्या (sperm count) में सुधार करने में सहायता कर सकते हैं।

WHO के आधार पर, स्वस्थ शुक्राणु संख्या को 15 मिलियन प्रति मिलीलीटर (ML ) या कम से कम 39 मिलियन प्रति स्खलन (ejaculation) मानते हैं। टेस्टोस्टेरोन हार्मोन के स्तर शुक्राणु संख्या (sperm count) और गुणवत्ता पर सबसे महत्वपूर्ण प्रभाव डालता हैं। कुछ चिकित्सा स्थितियां – जिनमें आनुवंशिक विकार, संक्रमण और ट्यूमर शामिल हैं – जो शुक्राणुओं की संख्या को प्रभावित कर सकते हैं।

वीर्य को गाढ़ा करने के लिए घरेलू उपचार | Home remedies to sperm count in Hindi

शुक्राणुओं की संख्या में सुधार के लिए व्यायाम | Exercise to improve sperm count in hindi

अध्ययनों से पता चला है कि वजन घटाने के व्यायाम से आपके शुक्राणुओं की संख्या बढ़ती है। इसके अलावा, अध्ययन यह भी कहते हैं कि सप्ताह में कम से कम 15 घंटे व्यायाम करने से न केवल मांसपेशियों को मजबूत होता है, बल्कि वीर्य में मौजूद शुक्राणुओं की संख्या भी बढ़ती है।

यदि आप अपनी जीवन शैली को थोड़ा बदल सकते हैं, तो यह सब बदल सकता है। यहाँ कुछ सरल अभ्यास दिए गए हैं जिन्हें आपको अपने स्पर्म काउंट को बढ़ाने के लिए पालन करने की आवश्यकता है।

दौड़ना /Running :- इसमें प्रतिदिन लगभग 30 से 45 मिनट तक मध्यम रूप से दौड़ना शामिल है।

योग व्यायाम और भी शारीरिक व्यायाम हो सकते है।

वीर्य को गाढ़ा करने के लिए तनाव को दूर करें-

तनाव का शरीर के अंगों पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। तनाव के कारण शरीर की मांसपेशियों में थकान रहती है, और शरीर का ऊर्जा स्तर कम होता है। तनाव को दूर करने के लिए अपने आहार में ऐसे खाद्य पदार्थों को शामिल करें जो आपको तनाव मुक्त रखने में सहायक हों। आप योग के माध्यम से भी तनाव को दूर कर सकते हैं।

वीर्य को गाढ़ा करने के लिए अश्वगंधा का उपयोग करें

अश्वगंधा का इस्तिमाल सदियों से आयुर्वेद में यौन रोग के उपचार के लिए किया जाता है। 2013 के एक अध्ययन में पाया गया कि कम शुक्राणु वाले 46 पुरुषों ने 90 दिनों के लिए 675 मिलीग्राम अश्वगंधा प्रतिदिन लिया, उनके शुक्राणुओं की संख्या में 167% की वृद्धि देखी गई। इसलिए पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने के लिए अश्वगंधा को बेहतर माना जाता है।

मेथी के बीज –

मेथी लंबे समय से खराब शुक्राणु स्वास्थ्य के लिए एक प्राकृतिक उपचार के रूप में उपयोग में  किये जाते है, और अधिवक्ताओं का सुझाव है कि यह शुक्राणुओं की संख्या में सुधार करने में मदद कर सकता है। (read-मेथी के फायदे, उपयोग और नुकसान )

विटामिन D और कैल्शियम का सेवन-

शोध के अनुसार विटामिन डी और कैल्शियम की मदद से वीर्य के पतलेपन की समस्या को दूर किया जा सकता है। इस विषय पर कई और अध्ययनों ने पुष्टि की है कि आप विटामिन डी और कैल्शियम के साथ वीर्य की गुणवत्ता को बढ़ाया जा सकते हैं। शोध से पता चलता है कि कैल्शियम की कमी शुक्राणुओं की संख्या पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकती है।

अधिक एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थ खाएं

एंटीऑक्सीडेंट अणु शरीर में मुक्त कणों को निष्क्रिय करने में मदद करते हैं, जो कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाते हैं। कई विटामिन और खनिज एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करते हैं, कई अन्य अध्ययनों से पता चला है कि एंटीऑक्सिडेंट वीर्य समस्याओं को कम करते हैं और तेजी से शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि करते हैं।

एंटीऑक्सिडेंट जो स्वस्थ शुक्राणुओं की संख्या में योगदान कर सकते हैं, उनमें शामिल हैं:

स्वस्थ वसा खाएं | Eat healthy fat

शुक्राणु झिल्ली के स्वस्थ विकास के लिए पॉलीअनसेचुरेटेड वसा महत्वपूर्ण हैं। पॉलीअनसेचुरेटेड वसा को स्वस्थ वसा कहा जाता है। इससे शरीर को कोई नुकसान नहीं होता है। इस तरह के वसा में ओमेगा -3 और ओमेगा -6 शामिल हैं। सन बीज, अखरोट, जामुन, राई तेल और बीन्स में ओमेगा -3 गुण होते हैं, जबकि ओमेगा -6 मूंगफली, जैतून का तेल और तिल में पाया जाता है।

वीर्य को गाढ़ा करने वाले खाद्य पदार्थ

आप कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन करके अपने वीर्य को गाढ़ा कर सकते हैं। इसमें दही, बादाम, लहसुन, अनार, बीन्स, ग्रीन टी, केला, नींबू, साबुत अनाज और दालें, दूध उत्पाद और हल्दी शामिल हैं।

9 comments

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *