जायफल के फायदे और नुकसान | Nutmeg Benefits and Side Effects in Hindi

जायफल का इस्तेमाल दुनिया भर में मसाला के रूप में किया जाता है। सदाबहार जायफल की खेती मुख्यतः इंडोनेशिया के आस-पास के द्वीपों और दक्षिण भारत में की जाती है। इसका वैज्ञानिक नाम Myristica Fragrans है। जायफल के ऊपर के छिलके को जावित्री कहा जाता है। जावित्री का भी इस्तिमाल मसाले के रूप में किया जाता है। तासीर में जायफल गर्म होता है। इसलिए इसका सेवन कम मात्रा में किया जाता है।

जायफल में विटामिन, खनिज और कार्बनिक यौगिक पाए जाते हैं। जिस कारण यह बीमारी को रोकने और आपके स्वास्थ्य को विभिन्न तरीकों से लाभ देता है।

jaiphal

जायफल का तेल कॉस्मेटिक और कई प्रकार की दवाईयां बनाने में इस्तिमाल किया जाता है । इसकी गर्म तासीर के कारण जायफल सर्दियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। घरेलु नुस्खों में इसका इस्तिमाल पेट और त्वचा संबंधी समस्याओं को दूर रखने के लिए किया जाता है।

जायफल के फायदे | Benefits of nutmeg in hindi

जायफल के फायदे कई हैं। यह कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है और इसमें एंटीइन्फ्लेमेटरी, एंटीमाइक्रोबियल और एंटीऑक्सिडेंट प्रभाव भी होते हैं। जायफल के फायदों में शामिल है। जिसमें दर्द को दूर करने की क्षमता, अपच को शांत करना, शरीर को डिटॉक्सिफाई करना, त्वचा के स्वास्थ्य को बढ़ावा देना, अनिद्रा को कम करना, प्रतिरक्षा प्रणाली के कार्य में वृद्धि करना और ल्यूकेमिया ( blood cancer ) को रोकना और रक्त परिसंचरण में सुधार करना शामिल है।

अनिद्रा के इलाज के लिए | To treat insomnia

जायफल में अनिद्रा के इलाज के गुण भी पाए जाते हैं। इसमें उच्च मात्रा में मैग्नीशियम होता है, जो शरीर के तनाव को कम करता है। जिससे अच्छी नींद लेने में मदद मिलती है। इस प्रकार आपको रात में अनिद्रा और बेचैनी से राहत मिलती है। अगर रोज रात को गर्म दूध में जायफल पाउडर मिलाकर पीते हैं, तो आपको अच्छी नींद आ सकती है। जायफल कामुकता, नींद और मन को शांत के लिए इस्तिमाल किया जाता है। यह depression को कम करने में मदद करता है।

दर्द को दूर करने के लिए | To relieve pain

जायफल में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं। इस मसाले में मिरिस्टिसिन, एलिमिनिन, सफ़रोल और यूजेनॉल जैसे रसायन होते हैं। जो किसी भी तरह के दर्द के इलाज के लिए इसे उपयोगी बनाते हैं। ये रसायन जायफल और जायफल के तेल में पाए जाते हैं। जायफल के तेल के लाभों में सूजन, जोड़ों के दर्द, मांसपेशियों में ऐंठन, सिर दर्द और घावों से जुड़े दर्द का इलाज करना शामिल है।

त्वचा के लिए जायफल | Nutmeg for skin in hindi

जायफल खाने में स्वाद लाने के साथ-साथ जायफल के गुण त्वचा से जुड़ी सभी समस्याओं को दूर करने में कारगर साबित होते हैं। इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मुंहासों को रोकने में बहुत मदद करते हैं। जिससे त्वचा कोमल और स्वस्थ हो जाती है। जायफल पाउडर और दालचीनी पाउडर को मिलाकर एक पेस्ट बनाएं, यह आपकी त्वचा से झाई, धब्बे, डार्क सर्कल को हटाने में मदद कर सकता है। यदि आप मुँहासे के निशान से पीड़ित हैं, तो जायफल का उपयोग आपके निशान को दूर करने में मदद करेगा। इसके लिए आप जायफल के पाउडर में शहद मिलाकर पेस्ट बना लें और इसे दाग पर लगाएं। जायफल को पानी या दूध में मिलाकर भी चेहरे के दाने और मुंहासों के उपचार के लिए इस्तिमाल कर सकते है।

तनाव को दूर करने के लिए | to relieve stress

जायफल कामोत्तेजक के रूप में काम करता है, जिसका अर्थ है कि यह मस्तिष्क में तंत्रिका कोशिकाओं को उत्तेजित कर सकता है। इस मसाले में मौजूद रसायन शरीर में happy hormones हार्मोन को रिलीज करने में मदद करते हैं, जो आप पर शांत प्रभाव डालते हैं। टॉनिक के रूप में काम करता है, इसलिए जायफल तनाव को दूर करने के लिए एक बढ़िया विकल्प है। (read-डिप्रेशन के लिए हिमालया आयुर्वेदिक दवा )

सांसों की बदबू का इलाज करने के लिए | To cure bad breath

खराब सांस आपके शरीर में एक Toxic overload है। जायफल में जीवाणुरोधी और रोगाणुरोधी दोनों गुण पाए जाते हैं, और यह आपके सिस्टम को साफ करने में मदद कर सकता है। जायफल में पाए जाने वाले आवश्यक तेलों में से एक यूजेनॉल है, जो दांत दर्द से भी राहत दिला सकता है। मैक्लिगनन, जो जायफल में पाया जाने वाला रसायन है, कैविटीज (दांतों में कीड़े ) को रोकने में मदद कर सकता है।

रक्तचाप के लिए  | For blood pressure

जायफल कैल्शियम, पोटेशियम, मैंगनीज, और लोहा जैसे खनिजों में समृद्ध है, ये सभी रक्तचाप को नियंत्रित करने और रक्त के संचलन को बढ़ाने में मदद करते हैं। इन खनिजों में तनाव को कम करने गुण होते है, और रक्त वाहिकाओं को आराम देता है और रक्तचाप के नियमन में सहायता करता है।

लिवर को सुरक्षित रखे | Preserve liver

जायफल मैरिसलिगनन से भरपूर होता है, जो लिवर बीमारियों और विकारों के इलाज में मदद कर सकता है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं, और यह लिवर की सूजन का इलाज करने में मदद कर सकता है। यह शरीर के विषाक्त पदार्थों को हटाने में भी मदद कर सकता है, विशेष रूप से लिवर की ।

जायफल के अन्य फायदे | Other benefits of nutmeg in hindi

  • जायफल को प्रकृति मूत्रवर्धक माना जाता है। यह मूत्र की मात्रा को बढ़ाता है, जिसके कारण यह गुर्दे की पथरी को शरीर से बाहर निकालने में फायदेमंद है।
  • जायफल का उपयोग मधुमेह के लिए भी किया जा सकता है। जायफल में एंटीडायबिटिक गुण होते हैं। यह रक्त में मौजूद ग्लूकोज के स्तर को कम करने में मदद कर सकती है।
  • जायफल में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकते हैं।
  • जायफल सेक्स पावर बढ़ाने के साथ-साथ थकान और तनाव को कम करने में मदद करता है। जायफल उन पुरुषों के लिए दवा का काम करता है जिनका वीर्य पतला या शुक्राणु कम मात्रा में पैदा होते हैं।
  • जायफल में मैंगनीज, आयरन , पोटेशियम और विभिन्न विटामिन जैसे पोषक तत्वों पाए जाते है जो हमारे प्रतिरक्षा प्रणाली (immune system) को स्वस्थ रखने के लिए बहुत जरुरी होती है।

जायफल के नुकसान | Side effects of nutmeg in hindi

जायफल के फायदों के साथ इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। जायफल की तासीर गर्म है, इसका अधिक मात्रा में सेवन से घबराहट, नसों का दर्द, चक्कर आना, मतली और उल्टी जैसी समस्याएं हो सकती हैं। सही मात्रा में जायफल का इस्तिमाल हमारे लिए काफी सुरक्षित है।

प्रतिदिन जायफल कितना मात्रा में सेवन करे

  • जायफल का उपयोग 250 – 500 मिलीग्राम (एक या दो छोटी चुटकी) शहद या घी के साथ करना उचित है for adults।
  • अगर आप जायफल को आहार में मसाले के रूप में इस्तेमाल करते हैं, तो अलग से सेवन करने की कोई आवश्यकता नहीं है।