Home » all posts » पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए औषधि | Medicine to increase digestive power in hindi

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए औषधि | Medicine to increase digestive power in hindi

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए औषधि

अच्छी सेहत के लिए जरुरी है, पाचन शक्ति का अच्छा होना।पाचन तंत्र हमारे शरीर का महत्वपूर्ण हिस्सा है। यह हमारे भोजन को पचाता है और पूरे शरीर को पोषण संबंधी लाभ प्रदान करता है। इसलिए, पाचन तंत्र का हमेशा सही होना जरूरी है। एक स्वस्थ पाचन तंत्र भोजन से पोषक तत्वों को आसानी से अवशोषित कर सकता है और आवश्यक एंजाइम बना सकता है।

पाचन शक्ति कैसे बढ़ाएं? यह एक आसान सवाल है, जैसा कि आप जानते हैं। कमजोर पाचन तंत्र के कारण आपको कई समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। जैसे -पेट फूलना, कब्ज़, गैस्ट्रिक समस्या (पेट की गैस), पाचन संबंधी विभिन्न समस्याएं आदि।

जैसा कि आप जानते हैं, पेट हमारे पूरे शरीर की जड़ है। और इसे स्वस्थ रखना बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है। यदि आप एक खुशहाल जीवन चाहते हैं, तो आपका पाचन तंत्र मजबूत होना चाहिए।

पाचन शक्ति कमजोर होने के लक्षण क्या हैं | What are the symptoms of weak digestive power in hindi

  • पेट में जलन,
  • कब्ज़,
  • भूख में कमी,
  • थकान महसूस होना
  • भोजन के बाद बेचैनी,
  • मल पास करने में परेशानी होना
  • काला मल,
  • ऊपरी पेट की सूजन,
  • अपच आदि।

पाचन शक्ति बढ़ाने के उपाय | Remedy to increase digestive power in hindi

  1. पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए आप खाने को चबा चबा कर और आराम से खाये। यदि आप जल्दबाजी में खाना खाते है। तो वहा खाना अच्छे से पचता नहीं है। इस लिए अपने दांतो का आंतो से न ले।
  2. खूब पानी पिएं – पानी हमारे लिए मूल्यवान है। ज्यादातर लोग बहुत कम पानी पीते हैं। हमें एक दिन में लगभग 2 से 3 लीटर पानी पीना चाहिए। अगर आपका पाचन तंत्र ठीक नहीं है। तो आप ज्यादा पानी पीकर इसे काफी हद तक स्वस्थ बना सकते हैं। यह हमारे शरीर में पानी की मात्रा को पूरा करता है। जो हमारे भोजन को पचाने में आसान बनाता है। इसलिए पानी पीएं और खूब पीएं।
  3. अपनी दिनचर्या को सुधारे – हमारे लिए एक अच्छी दिनचर्या होना बहुत जरूरी है। आप बेहतर दिनचर्या से आप पाचन तंत्र की बहुत समस्याओ को दूर कर सकते हैं। अपनी दिनचर्या को सुबह से लेकर सोते समय तक सही रखें, साथ ही अपने भोजन को सही समय पर लें। जिसके कारण पाचन तंत्र में भी सुधार होगा।
  4. भोजन में सलाद खाएं- अगर आपके पास सलाद है, तो खाने का आनंद दोगुना हो जाता है। सलाद हमारे स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। अगर खाना ठीक से पचाना है, तो खाने के साथ सलाद लें। जिसमें आप नींबू, टमाटर, गाजर , खीरा और प्याज ले सकते हैं।
  5. फास्ट फूड से दूर रहे  -इसका रोजाना इस्तेमाल आपके पाचन तंत्र को खराब कर देता है। और जो लोग कभी-कभी इसका इस्तेमाल करते हैं, उन्हें कम कठिनाई होती है।
  6. व्यायाम करे  – पाचन तंत्र ज्यादातर उन लोगों के खराब होता है। जो शारीरिक श्रम नहीं करते हैं। बहुत से लोग ऐसे हैं जिनका काम शारीरिक नहीं है। ऐसे लोग अपनी दिनचर्या में कुछ शारीरिक काम कर सकते हैं। जैसे – सुबह उठकर टहल सकते हैं। या दौड़ भी सकते हैं। कोई भी खेल या साइकिल चलाना भी उनके लिए फायदेमंद है।
  7. अधिक खाने से बचें (Avoid overeating) – विशेषज्ञों के अनुसार, आवश्यकता से अधिक भोजन करना हमारे स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है। अधिक खाने से अपच की समस्या होती है। हमें उतना ही खाना लेना चाहिए जितना हमे भूखे हों। कई बार लोग स्वाद में ज्यादा खाना खा लेते हैं और बाद में उन्हें पछताना पड़ता है। अधिक भोजन लेने से हमारे पाचन तंत्र पर अधिक दबाव पड़ता है, जो सही नहीं है।
  8. दही का सेवन हमारे पाचन के लिए बहुत अच्छा होता है, खाने में दही को जरूर शामिल करें।

पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए औषधि | Medicine to increase digestive power in hindi

1. त्रिफला भोजन के पोषक तत्वों का अवशोषण क्रिया को बढ़ाता है। त्रिफला पेट के विषाक्त पदार्थों को साफ करने में बहुत फायदेमंद होता है। यह विषाक्त पदार्थों को शरीर से धीरे-धीरे साफ करता है।

इसलिए त्रिफला का उपयोग लंबे समय तक किया जाना चाहिए। त्रिफला की तीन गोलियां या 1चम्मच पाउडर  सोने से पहले गुन-गुने पानी के साथ सेवन करे।

2. हिंगवास्टका चूर्ण- 2 – 3 ग्राम हिंगवास्टका चूर्ण को गुनगुने पानी के साथ 7-10 दिनों तक लेने से अपच की समस्या दूर हो जाती है।

3. शंख वटी (Baidyanath Shankha Bati) – एक से दो गोली दिन में तीन बार सुबह, दोपहर, शाम को भोजन करने के बाद गुनगुने पानी से ले। अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

4. संजीविनी वटी– कमजोर पाचन तंत्र को ठीक करने के लिए, एक से दो गोलियाँ सुबह और शाम गुनगुने पानी के साथ दिन में दो बार ली जा सकती हैं। इस दवा को भोजन के बाद ही लिया जाना चाहिए। संजीवनी वटी को 7 से 10 दिनों तक गर्म पानी के साथ उपयोग करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *