साइटिका दर्द के घरेलू उपचार | sciatica pain home remedy in hindi

साइटिका दर्द के घरेलू उपचार | sciatica pain home remedy in hindi

 स्लिप डिस्क का दर्द, लंबे समय तक बैठे रहने या खड़े रहने के कारण, शरीर में गैस बढ़ने के कारण यह साइटिका रोग होता है। शरीर में विटामिन डी कैल्शियम और विटामिन बी 12 की कमी होने के कारण शरीर में नसें दबने लगती हैं, किसी को हड्डी बढ़ने की शिकायत होती है। जो शरीर के निचले हिस्से में रक्त संचार को बहुत कमकर देता है। शरीर अकड़ जाता है। एक बार जब आप बैठ जाते हैं, तो खड़े होना मुश्किल होता है। एक बार जब आप सोते हैं, तो बिस्तर से उठना मुश्किल हो जाता है।
एलोपैथी में साइटिका दर्द के लिए कई उपचार हैं। जो दर्द में तुरंत राहत देते हैं लेकिन इन दवाओं के दुष्प्रभाव बाद में दिखाई देते हैं।

साइटिका के दर्द का घरेलू उपचार | Home remedies for sciatica pain

हरसिंगार का सेवन

4-5 ताजे पत्ते हरसिंगार के पीस करगिलास पानी में उबाल लें। जब आधा गिलास पानी बचने पर छान कर दिन मेंबार सुबह और शाम एक सप्ताह तक पी जिए। इससे साइटिका के रोग में फायदा मिलता है 

मेथी का सेवन

मेथी में एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। ये लाभकारी तत्वजोड़ों की सूजन को कम करके साइटिका के दर्द से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं। मेथी में आयरन, कैल्शियम, और फास्फोरस भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसलिए, मेथी के औषधीय गुण हड्डियों और जोड़ों को आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करते हैं, जो हड्डियों को स्वस्थ और मजबूत बना सकते हैं। (read-मेथी के फायदे, उपयोग)

हल्दी का सेवन

हल्दी अपने सूजन विरोधी गुणों के कारण साइटिका के लिए प्राकृतिक उपचार है। इसमें कर्क्यूमिन नामक एक यौगिक होता है जो तंत्रिका दर्द और सूजन को कम करने के लिए बहुत फायदेमंद होता है। आप हल्दी को दूध में मिलाकर पी सकते हैं ,हल्दी वाले दूध के कई फायदे हैं

मालिश थेरेपी

मालिश थेरेपी साइटिका दर्द से राहत दे सकती है राहत मिलने तक प्रभावित क्षेत्र पर रोजाना मालिश करें। इसके अलावा, रक्त परिसंचरण को उत्तेजित करता है, और गति बढ़ाता है।
10 gm जायफल पाउडर को 100 gm तिल का तेल पकालें। पके हुए तेल से कमर पर मालिश करें। कमर के निचले हिस्से पर स्टीमिंग करे। कुछ हफ्तों के लिए प्रति दिन कई बार मालिश करें।