हाइपरथायरायडिज्म में क्या खाएं | hyperthyroidism mein kya khana chahiye

हाइपरथायरायडिज्म क्या है | What is hyperthyroidism in Hindi

हाइपरथायरायडिज्म या ओवर एक्टिव थायराइड, में थायराइड ग्लैंड आपके शरीर की आवश्यकता से अधिक थायराइड हार्मोन बनाने लगती है। इस स्थिति को थायरोटॉक्सिकोसिस भी कहा जाता है।

आपकी थायराइड एक तितली के आकार की ग्रंथि है, जो आपकी गर्दन के सामने होती है। यह T3 और T4 नामक थायराइड हार्मोन का उत्पादन करता है।

थायराइड हार्मोन के कार्य | Functions of thyroid hormone in Hindi

अपने शरीर को ऊर्जा का उपयोग करने में मदद करें

शरीर के तापमान को संतुलित करने में मदद करें

अपने मस्तिष्क, हृदय और अन्य अंगों को ठीक से काम करने में मदद करें

कुछ प्रकार के हाइपरथायरायडिज्म आनुवंशिक हो सकते हैं। जैसे – ग्रेव्स रोग। पुरुषों की तुलना में महिलाओं में सात से आठ गुना अधिक आम है।

कुछ मामलों में, थायरॉयड कैंसर का कारण हो सकता है।

हाइपरथायरायडिज्म के लक्षण | Hyperthyroidism Symptoms in Hindi

·         अचानक वजन कम होना
·         भूख बढ़ गई
·         चिंता, चिड़चिड़ापन और घबराहट
·         सोने में कठिनाई
·         अधिक गर्मी लगना
·         पसीना आना
·         तेज़ दिल की धड़कन
·         थकान
·         मांसपेशी में कमज़ोरी
·         हाथ कांपना
·         त्वचा का पतला होना
·         मासिक धर्म में परिवर्तन
·         गर्दन पर सूजन

हाइपरथायरायडिज्म में आहार में बहुत अधिक आयोडीन थायराइड हार्मोन का उत्पादन बढ़ा सकता है। कैल्शियम और विटामिन डी महत्वपूर्ण हैं क्योंकि हाइपरथायरायडिज्म में हड्डियों के पतले एवं कमजोर होने की समस्याएं पैदा कर सकता है।

हाइपरथायरायडिज्म

 

हाइपरथायरायडिज्म में क्या खाएं | What to eat in hyperthyroidism in Hindi

कम आयोडीन युक्त खाद्य पदार्थ | Low iodized foods

शरीर में आयोडीन की अधिक मात्रा के कारण थयरॉइड हॉर्मोन जरुरत से अधिक बनने करते है ,जिससे हाइपरथाइरोइड हो जाता है। 

खाद्य पदार्थ जिनमे आयोडीन की मात्रा काम होती है

·         बिना आयोडीन का नमक
·         सफेद अंडे
·         ताजा सब्जियाँ
·         चाय और ब्लैक कॉफ़ी
·         वनस्पति तेल
·         चीनी, जैम , जेली, और शहद
·         अनसाल्टेडनट्स और नट बटर
·         सोडा और नींबू पानी
·         गोमांस, चिकन,
·         फलों और फलों का रस

अधिक ऊर्जा  वाले खाद्य पदार्थ | High Energy Foods

हाइपरथायरायडिज्म में ऊर्जा की खपत सामान्य से अधिक हो जाती है, इसलिए हमे अपनी जरूरत से ज्यादा मात्रा में ऊर्जा का सेवन करना है, जो वजन बढ़ाने में मदद कर सकता है।

अधिक ऊर्जा  वाले खाद्य पदार्थ के अच्छे स्रोतों में शामिल हैं

·         बिना चोकर के आटा, 

·         चावल,

·         आलू,

·         शकरकंदी,

·         फुल क्रीम मिल्क एवं उससे बने दही,

·         पनीर,

·         आम, चीकू, लीची,

·         केला,

·         खजूर, 

·         गुड़, 

·         चॉकलेट,

·         शहद,

उच्च मात्रा में प्रोटीन | High protein

हाइपरथायरायडिज्म में वजन कम होने के कारण मांसपेशियां कमजोर हो जाती हैं, इसलिए उच्च प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ खाएं,

उच्चप्रोटीन के अच्छे स्रोतों में शामिल हैं

·         दालें,

·         बीन्स,

·         छोले,

·         लोबिया,

·         दूध, दही,

·         अंडा,

·         मछली,

·         मीट

यदि आपके भोजन में प्रोटीन की कमी है।तो आप प्रोटीन सप्लीमेंट ले सकते हैं।

उच्च गुणवत्तावाला वसा | High quality fat

अपने आहार में शामिल करें। ये केवल आपकी दैनिक वसा की आवश्यकता को पूरा करेंगे, बल्कि ये आपको वजन बढ़ाने में,सूजन को कम करने में , भी मदद करेंगे।और थायराइड हार्मोन को संतुलित करने में भी मदद करता है।

Healthy fat केअच्छे स्रोतों में शामिल हैं

·         बादाम,

·         अखरोट,

·         पिस्ता,

·         मूंगफली,

·         सफेदतिल,

·         अलसीके बीज, अलसी का तेल

·         सूरज मुखी के बीज,

·         खरबूजे के बीज

·         जैतून का तेल

·         नारियल का तेल

·         सूरज मुखी का तेल

विटामिन डी। vitamin D

हाइपरथायरायडिज्म में हड्डियों का पतला और कमजोर होने की संभावना काफी होती है, तो ऐसे आहार लें जो विटामिन डी से भरपूर हों।

विटामिन D के अच्छे स्रोतों में शामिल हैं

·         मशरूम,

·         अंडेकी जर्दी,

·         मछली

·         सोया दूध,

·         गाय का दूध

इसके अलाबा धूप में बैठने की आदत डालें

सेलेनियम युक्त खाद्य पदार्थ | Selenium Containing Foods

सेलेनियम पोषक तत्व है जो शरीर को थायरॉयड हार्मोन के चयापचय के लिए आवश्यक है।सेलेनियम थायराइड हार्मोन के स्तर को संतुलित करने और थायराइड की बीमारी से बचाने में मदद करता है। शोध बताते हैं कि सेलेनियम ऑटोइम्यून थायरॉयड रोग के कुछ लक्षणों को सुधारने में मदद कर सकता है, जैसे कि थायराइड नेत्र रोग।

सेलेनियम के अच्छे खाद्य पदार्थों में शामिल हैं:

·         झींगा

·         चिकन

·         अंडे

·         दलिया

·         पालक

·         मशरूम,

·         सूरजमुखी के बीज,

पत्तेदार सब्जियां | Leafy vegetables

कुछ सब्जियों में ऐसे यौगिक होते हैं जो थायराइड हार्मोन के उत्पादन को कम करते हैं और थायरॉयड द्वारा आयोडीन को कम कर सकते हैं। ये दोनों प्रभाव हाइपरथायरायडिज्म वाले व्यक्ति के लिए फायदेमंद हो सकते हैं।

सब्जियों में शामिल हैं:

·         गोभी

·         सरसों का साग, 

·         शलजम की जड़ें और साग

·         मूली

·         ब्रोकोली (Broccoli)

कैल्शियम | Calcium

विटामिनडी के साथसाथहड्डियों को मजबूत बनाने के लिए भी कैल्शियम की आवश्यकता होती है। कैल्शियम, दूध और दूध सेबने उत्पाद, अंडा, रागी, सोयाबीन, संतरे, चिकन, मछली आदि से बनी चीजें अपने खाने में इस्तेमाल कर सकते हैं।

ओमेगा-3 फैटी एसिड युक्त खाद्य पदार्थ | Omega-3 fatty acid rich foods in Hindi

ओमेगा -3 फैटी हाइपरथायरायडिज्म को नियंत्रित करने में बहुत फायदेमंद है। यह शरीर में थायराइड के स्तर को सामान्य बनाए रखने में मदद करता है। मछली ओमेगा -3 फैटी एसिड का सबसे अच्छा स्रोत है।
लेकिन शाकाहारी लोग ओमेगा -3 फैटी एसिड के लिए जैतून का तेल और अलसी के बीज खा सकते हैं।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.