आंवला खाएं रोग भगाएं | Health benefits of Amla in Hindi

आंवला | Amla in Hindi

आंवला को प्राचीन आयुर्वेदिक औषधियों में से एक माना जाता है।आंवले में हैं चमत्कारिक गुण,आंवला एक ऐसा फल है।  जो स्वाद में कसैला (जीभ को कसने वाले स्वाद) होता है। लेकिन यह अनेक रोगो को जड़ से उखाड़ फेंकने के गुण रखता है। घरेलू नुस्खों में आंवले का बहुत ज्यादा इस्तेमाल होता है। अपने विभिन्न औषधि गुण के कारण आयुर्वेद में इसे अमृत फल भी कहा जाता है।आयुर्वेदिक डॉक्टरों का कहना है. कि आंवला एंटीऑक्सिडेंट और पोषक तत्वों का अच्छा स्रोत है। आंवले में अधिक मात्रा में विटामिन c के साथसाथविटामिन बी ,डी, फाइवर ,वसा ,प्रोटीन एवं खनिज लवण भी पाए जाते है।
यह हमें कई बीमारियों से बचाता है जैसे कैंसर, सर्दी, हृदय संबंधी विकार आदि।
आयुर्वेद कहता है कि यह फल 3 दोषों (वात, पित्‍त, कफ) को संतुलित करने में मदद करता है और कई बीमारियों की जड़ को खत्म करता है।

 

जानिए आंवला खाने के फायदे | Benefits of Amla in Hindi

·         सर्दी, खांसी और अन्य श्वसन स्थितियों से लड़ने में मदद करें

·         वसा को प्रभावी ढंग से जलाएं

·         एक मजबूत प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करता है और प्रतिरक्षा (immunity) में सुधार करता है

·         कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करता है

·         विटामिन सी का एक बड़ा स्रोत है, और इसलिए, गमस्वास्थ्य (मसूड़ों में सूजन) में सुधार करता है आंखों की रोशनी में सुधार करता है, और यहां तक​​कि बाल और त्वचा का स्वास्थ्य भी

·         यहपित्त को संतुलित करता है

·         कैंसर को रोकने में आंवले में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं।

·         अल्सर की रोकथाम में आंवले का जूस पेप्टिक अल्सर बहुत प्रभावी साबित होता है।

·         वजन कम करने में, आंवला शरीर में मौजूद गंदगी को साफ करने और वजन कम करने में भी फायदेमंद है।

·         दस्त से राहत के लिए

·         मज़बूत दाँतों के लिए

·         दिमाग़ को तेज़ बनाने के लिए

·         मज़बूत हड्डियों के लिए

·         मोटापा कम करने के लिए

·         आवंला आपके रक्त को शुद्ध करता है।

आंवला के घरेलू नुस्खे | Home remedies for Amla in Hindi

प्रतिदिन एक आंवले का मुरब्बा खाने से शरीर विभिन्न प्रकार के रोगों से बचा रहता है तथा शरीर स्वस्थ रहता है।

आंवले का उपयोग त्रिफला चूर्ण बनाने में किया जाता है जो पेट के सभी रोगों को दूर करता है।

आंवले के आधा चम्मच चूर्ण में शहद और मक्खन मिलाकर खाने से अपच दूर होता है तथा भूखखुल कर लगती है।

आंवला, अदरक, नमक और हरा धनिया की चटनी बना लें फिर इसमें जरा सा काला नमक, पिसा हुआ जीरा और पीसी काली मिर्च मिलाकर खाने से अपच, एसिडिटी तथा वायु विकार (air disorders) दूर होता है।

50 ग्राम आंवले के चूर्ण में 50 ग्राम काला टिल , 50 ग्राम देसी घी और 25 ग्राम शहद मिलकर रखले , एक चम्मच इस चटनी को प्रतिदिन सुबह दूध के साथ खाने से बुढ़ापा दूर रहता है और शरीर चुस्त हो जाता है।

आंवला,रीठा और शिकाकाई को पीसकर चूर्ण बना ले , फिर इसे पानी में घोल कर उससे बालो को धोएँ। बाल काले , घने , लम्बे और मजबूत हो जायेगे।

एक गिलास गन्ने के रस में तीन बड़े चम्मच आंवले का रस और तीन चम्मच शहद मिलकर दिन में 2 बार 10 दिन तक पीने से पीलिया रोग समाप्त हो जाता है।

3 चम्मच आंवले के रस में 3 चम्मच नारियल का तेल मिलकर बालो की जड़ों में मालिश करे , बाल झड़ने हमेशा के लिए वंद हो जायेगे।

प्रतिदिन आंवले के रस में शहद मिलकर सुबह और रात को सोते समय पिने से मोटापा कम हो जाता है।

रात को सोते समय 1 चम्मच आंवले के रस का सेवन करने से , अनिद्रा रोग दूर हो जाता है।

आंवले के 1 चम्मच रस में 1 चम्मच शहद मिलकर चाटने से सुखी ख़ासी में बहुत लाभ मिलता है।

25 ग्राम आंवले के रस में 1 चुटकी छोटी इलायची का चूर्ण मिलकर सेवन करने से , मूत्र सम्बंधित रोगो में लाभ मिलता है।

आंवला के नुकसान | Amla Side Effects in Hindi

यह रक्तचाप को कम करने में सहायक है, इसलिए निम्न रक्तचाप से पीड़ित रोगियों को इससे बचना चाहिए।

इसका ज्यादा इस्तेमाल करने से त्वचा धीरेधीरे अपनी नमी खोने लगती है।

 आंवले का अधिक मात्रा में सेवन करना , पेशाब में जलन का कारण बन सकता है।

👉आयुर्वेद क्या है | What Is Ayurveda And Benefits Of Ayurvedic Treatment

👉गिलोय क्या है गिलोय के फायदे | Giloy Identification Benefits Side Effects In Hindi

👉अश्वगंधा के 10 स्वास्थ्य लाभ | 10 Health Benefits Of Ashwagandha

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *