Home » all posts » पालक खाने के फायदे और नुकसान | health benefits of spinach in Hindi

पालक खाने के फायदे और नुकसान | health benefits of spinach in Hindi

सर्दियों के मौसम में सबसे रोगमुक्त रखने वाली सब्जी मानी जाती है। पालक बहुत ही गुणकारी सब्जी है। पालक में आयरन का अंश भी बहुत अधिक रहता है, हरी पत्तीदार सब्जियों में कैल्शियम, बीटा कैरोटिन एवं विटामिन C , विटामिन A भी काफी मात्रा में पाये जाते हैं। पालक (Spinach) में मौजूद आयरन शरीर द्वारा आसानी से सोख लिया जाता है।

विटामिन्स और मिनरल्स भरपूर

पालक में विटामिन A, C, E, K और B-complex अच्छी मात्रा में पाया जाता है. इसके अलावा पालक में मैगनीज, कैरोटीन, आयरन, आयोडीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटैशियम, सोडियम, फॉस्फोरस और आवश्यक अमीनो एसिड भी पाए जाते हैं। इसलिए पालक खाने से खून के लाल कणों (Haemoglobin) की संख्या बढ़ती है। इसलिए सभी सभी doctors हरी सब्जी खाने की सलाह देते है।

आमतौर पर लोग पालक को सब्जी के रूप में या पराठे के रूप में खाना पसंद करते हैं, लेकिन अगर आप पालक का पूरा लाभ चाहते हैं, तो आपको पालक का रस (juice) पीना सबसे अच्छा option है। जूस लेने से आप इसमें मौजूद विटामिन ए, सी, ई, के और बी कॉम्प्लेक्स का पूरा फायदा पा सकते हैं।

पालक खाने के फायदे | Benefits of Spinach in Hindi

1.       पालक में विटामिन K , आयरन, आयोडीन, कैल्शियम, की अच्छी मात्रा होती है. ऐसे में पालक का जूस पीने से हड्ड‍ियां मजबूत होती हैं

2.       अगर आपको त्वचा की कोई समस्या है तो पालक आपके लिए फायदेमंद होगा। पालक का खाने से स्किन (skin) ग्लो और जवान बनी रहती है। यह बालों को भी हेअल्थी रखता है।

3.       पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने के लिए, पालक खाने की सलाह दी जाती है। यह शरीर में हानि पहुंचाने वाले पदार्थों को बाहर निकालने में मददगार है।अगर आपको कब्ज की समस्या है तो पालक का सेवन आपके लिए फायदेमंद होगा।

4.       गर्भवती महिलाओं को भी पालक का सेवन करने की सलाह दी जाती है। पालक का सेवन से गर्भवती महिला के शरीर में आयरन की कमी नहीं होती है। जिससे वे एनीमिया का शिकार नहीं होती।

5.       आंखों की समस्याओं से बचने के लिए आपको पालक का सेवन करने की डॉक्टर्स भी सलाह देते है। पालक में विटामिन A और विटामिन C होता है, जो नेत्र रोग के खतरे को कम करता है।

6.       पालक में कैल्शियम अच्छी मात्रा में है और कैल्शियम तंत्रिका तंत्र (nervous system) को सामान्य रूप से कार्य करने में मदद कर सकता है। पालक विटामिन-K, ल्यूटिन, फोलिक एसिड और बीटा-कैरोटीन जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है जो मस्तिष्क-स्वस्थ के लिए बहुत लाभकारी है। पालक का सेवन स्मरण ताकत को मजबूत करने में  हेल्प करता है

7.      पालक में फोलिक एसिड और कैल्शियम बहुत अधिक है। यह दांतों के लिए बहुत जरूरी है। कच्चे पालक के पत्ते चबाने से पायरिया से राहत मिलती है।

8.       पेट की चर्बी कम करने के लिए पालक एक perfect सब्जी है। Nutrition से भरपूर होने के अलावा, इसमें बड़ी मात्रा में फाइबर भी होता है। फाइबर के अलावा, पालक विटामिन A, C और K, मैग्नीशियम, आयरन और मैंगनीज से भरपूर है। fat कम करने के लिए अपने नाश्ते या दोपहर के भोजन में पालक शामिल करें।

9.       रोग मुक्त रहने के लिए इम्युनिटी मजबूत होना बहुत जरूरी है। पालक में भरपूर मात्रा में विटामिन E, C, पाया जाता है और विटामिन E, C इम्यूनिटी बढ़ाने का काम कर सकता है।

10.   पालक में पर्याप्त कैल्शियम होता है। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, कैल्शियम का सेवन शरीर की मांसपेशियों को आराम देता है।

11.   पालक में कैरोटीन और क्लोरोफिल होता है। जो कैंसर के खतरे को कम करने में सहायक माने जाते हैं

12.   फाइबर उच्च रक्त शर्करा (high blood sugar) को नियंत्रित करने में भी सहायक है। तो पालक भी शुगर के मरीजों के लिए अच्छा है।

 

पालक खाने के नुकसान | side effects of spinach in hindi

·         पेट की समस्या– पालक फाइबर का एक अच्छा स्रोत है। लेकिन पालक ज्यादा खाने से पेट में दर्द और गैस की शिकायत बनी रहती है।

·         एनीमिया में– पालक के अधिक सेवन से शरीर खाये हुए खाने से उचित मात्रा में आयरन अवशोषित नहीं कर पाता है। इसी कारण एनीमिया की समस्या बढ़ सकती है।

·         गठिया का रोग– पालक में प्यूरीन उच्च मात्रा में पायी जाती है। जो शरीर में मेटाबोलिज्म को बढ़ा देती है, जो शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ा देती है।

·         इसलिए, यदि आप गठिया जैसी बीमारी से परेशान हैं, तो आपको पालक खाना बंद कर देना चाहिए वरना आपके जोड़ों में तेज दर्द और सूजन हो सकती है।

·         किडनी की समस्या -पालक का ज्यादा सेवन किडनी में समस्या उत्पन्न कर सकता है। पालक का ज्यादा सेवन करने से किडनी में कैल्सियम की मात्रा बढ़ जाती है, जिसके कारण किडनी में छोटे -छोटे टुकड़े एकत्रित हो जाते हैं और यह किडनी के स्टोन में परिवर्तित हो जाता है।

·         एलर्जी कभी-कभी पालक का ज्यादा सेवन एलर्जी भी पैदा कर सकते है।

·         दांतों में किरकिराहट – पालक का ज्यादा सेवन करने से दांतों में किरकिराहट बढ़ जाती है।

 इसमें कोई शक नहीं है कि पालक शरीर के लिए फायदेमंद है। लेकिन इसका सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए। दिन में एक से अधिक बार पालक का सेवन न करें।